भारत के बल्लेबाज केदार जाधव ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की

भारत के बल्लेबाज केदार जाधव ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा की जून, 3 2024

केदार जाधव का क्रिकेट करियर: एक नज़र

भारतीय क्रिकेट टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज केदार जाधव ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर दी है। 39 वर्षीय जाधव पिछले चार वर्षों से अंतरराष्ट्रीय मंच पर नजर नहीं आ रहे थे। उनकी पहली अंतरराष्ट्रीय पारी का आगाज नवंबर 2014 में श्रीलंका के खिलाफ हुए एकदिवसीय मुकाबले से हुआ था। अपने आठ साल लंबे करियर में उन्होंने कई महत्वपूर्ण पारियां खेली और टीम को अभियानों में योगदान दिया।

प्रमुख उपलब्धियां और आंकड़े

प्रमुख उपलब्धियां और आंकड़े

केदार जाधव ने अपने एकदिवसीय करियर में कुल 73 मैच खेले और 1,389 रन बनाए। इनमें दो शानदार शतक और छह अर्धशतक शामिल हैं। एकदिवसीय मैचों में उनका सर्वोत्तम प्रदर्शन इंग्लैंड के खिलाफ पुणे में जनवरी 2017 में देखने को मिला, जब उन्होंने 76 गेंदों में 120 रनों की खास पारी खेलकर भारत को जीत दिलाई थी। टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों में जाधव ने कुल नौ मैच खेले और 122 रन बनाए।

गेंदबाजी भी थी खासियत

गेंदबाजी भी थी खासियत

भले ही केदार जाधव को मुख्यतः उनकी बल्लेबाजी के लिए जाना जाता हो, लेकिन उन्होंने गेंदबाजी में भी अपनी खास पहचान बनाई। एकदिवसीय मुकाबलों में उन्होंने अपने ऑफ-स्पिन गेंदबाजी के जरिए 27 विकेट हासिल किए। उनकी गेंदबाजी इतनी प्रभावी थी कि वो अक्सर मिडिल ओवर्स में विकेट निकालने में सफल रहे और टीम के लिए उपयोगी साबित हुए।

आईपीएल में केदार का सफर

जाधव का आईपीएल करियर भी कम नहीं था। उन्होंने कई बड़ी टीमों के साथ खेलते हुए अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। चेन्नई सुपर किंग्स, दिल्ली डेयरडेविल्स, कोच्चि टस्कर्स केरला, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद जैसी टीमों के साथ खेलते हुए उन्होंने महत्वपूर्ण मैचों में महत्वपूर्ण योगदान दिया।

आईपीएल के अतिरिक्त, केदार जाधव वर्तमान में महाराष्ट्र प्रीमियर लीग में कोल्हापुर टस्कर्स टीम की कप्तानी भी कर रहे हैं। यह लीग खिलाड़ियों को स्थानीय स्तर पर अपनी क्रिकेट प्रतिभा को संवारने का मौका देती है और जाधव के नेतृत्व में टीम ने अच्छा प्रदर्शन दिखाया है।

संन्यास का समय

केदार जाधव का यह संन्यास अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में उनके योगदान को एक नए मोड़ पर लाता है। हालांकि उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेला नहीं है, लेकिन उनकी सेवाएं और योगदान कभी भुलाए नहीं जा सकते। क्रिकेट प्रेमियों के लिए यह एक भावुक पल है, क्योंकि जाधव जैसे अनुभवी खिलाड़ी ने अपनी क्रिकेट यात्रा का अंत किया है। वह कई युवा खिलाड़ियों के लिए प्रेरणा बने हैं और उनकी खेल शैली हमेशा उनके प्रशंसकों के दिलों में जीवित रहेगी।

उनके इस निर्णय के बाद, अब देखना होगा कि वह क्रिकेट से संन्यास के बाद क्या नई दिशा अपनाते हैं। कई खिलाड़ियों की तरह, जाधव भी खेल संबंधित अन्य क्षेत्रों में सक्रिय हो सकते हैं या फिर क्रिकेट से परे नई चुनौतियों की ओर बढ़ सकते हैं। यह समय दिखाएगा कि उनके लिए भविष्य क्या लेकर आता है।

कुल मिलाकर, केदार जाधव का क्रिकेट करियर कई उपलब्धियों और यादगार पलों से भरा हुआ है। उनके योगदान को हमेशा सराहा जाएगा और उनके नाम की गूँज क्रिकेट गलियारों में हमेशा सुनाई देगी। इस महत्वपूर्ण मोड़ पर हम उन्हें नई सफर के लिए शुभकामनाएं देते हैं।

अभिलेखागार